2 अक्टूबर पर कविता – गांधी जयंती पर कविता by कवि अमित मौलिक

2 अक्टूबर पर कविता – मित्रों, प्रस्तुत है 2 अक्टूबर पर कविता । जैसा कि आप सब जानते हैं कि 2 अक्टूबर 2018 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की जयंती है। समूचे भारत में इस अवसर पर आयोजन करके गाँधी जी को श्रद्धांजलि अर्पित की जाती है। कहीं गोष्ठियों में चिंतन होता है, तो कहीं

लव गजल हिंदी में – कवि अमित मौलिक की 3 बेहद ख़ूबसूरत गजलें

लव गजल हिंदी में – उड़ती बात के सभी प्रशंसकों को कवि अमित मौलिक का सादर प्रणाम। दोस्तों, आज फिर इस नये आर्टीकल लव गजल हिंदी में के माध्यम से आप सबके समक्ष कुछ गजलें लेकर हाज़िर हूँ। मेरी लिखी इन 3 ग़ज़लों में आपको मेरी कलम का तल्ख़ मिज़ाज़ पढ़ने को मिलेगा। कोई मिसरा

रोमांटिक गजलें – दिल में गुलकंद घोलती 3 दिलकश ग़ज़लें, लव ग़ज़ल

रोमांटिक गजलें – दोस्तों, आप सबके सामने पेश है अलग-अलग मिज़ाज़ की 3 खूबसूरत ग़ज़लें। काफ़ी वक़्त के बाद मैंने गजलें लिखीं हैं। रोमांटिक गजलें लिखने के लिये एक अलग ही मिज़ाज की ज़रूरत होती है। मेरे लिये यह इतना आसान कभी नहीं रहा। कभी किसी की बेहतरीन ग़ज़ल पढ़ने-सुनने में आ जाती है तो

स्वच्छता पर शायरी – स्वच्छता पर नारे, स्वच्छ भारत अभियान पर दोहे

स्वच्छता पर शायरी – उड़ती बात के सभी मित्रों को सादर नमस्ते। दोस्तों, आज स्वच्छ भारत अभियान को लगभग 4 बर्ष होने को आये हैं। माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की इस अभिनव पहल ने सम्पूर्ण देश को चमकदार बना दिया। जन-जन ने इस अभियान में अपनी भागीदारी करके अपनी राष्ट्र भक्ति को सिद्ध किया

कविता-ये आँसु बेसबब क्यों/Kavita-Ye aasu besabab kyon

रोमांटिक कविता इन हिंदी – पढिये मेरी कलम से निकलीं  3 बहुत ही रोमांटिक कवितायें। यह आर्टीकल रोमांटिक कविता इन हिंदी आपके दिल को ज़रा सा भी छू जाये तो प्रयास सार्थक हो जायेगा।  रोमांटिक कविता इन हिंदी ये आँसू बेसबब क्यों !  ये आँसु बेसबब क्यों जब कुछ सहा ही नहीँ क्या सुन लिया तुमने

आभार प्रदर्शन कविता । Aabhar Pradarshan Poem, आभार कविता

आभार प्रदर्शन कविता – मित्रों, हम सभी जानते हैं कि किसी भी संस्था या समूह में होने वाले कार्यक्रम को सफल बनाने में ढेरों कार्यकर्ताओं का सहयोग लगता है। मंच पर मंचीय प्रस्तुतियां देने वाले कलाकारों और प्रतिभागियों के अतिरिक्त्त पर्दे के पीछे से उस कार्यक्रम को सफलता के साधन-संसाधन उपलब्ध कराने वाले व्यक्तियों का भी

हिंदी दिवस शायरी – हिंदी दिवस पर शायरी, Hindi Diwas shayari in hindi 2018

हिंदी दिवस शायरी – हिंदुस्तान के सभी हिंदी भाषा प्रेमियों को Amit Maulik का हिन्दीमय अभिवादन। मित्रों, 14 सितंबर को हिंदी दिवस है। हिंदी दिवस शायरी  के द्वारा हिंदी भाषा के सम्मान में हिंदी का एक सिपाही होने के नाते मैंने कुछ योगदान देने का प्रयास किया है। एक हिंदी रचनाकार होने के नाते मेरा

हिंदी दिवस पर शानदार कविता। हिंदी दिवस पर कविता। हिंदी पर बहुत ही सुंदर कविता।

हिंदी दिवस पर कविता – अपनी मातृभाषा हिंदी को समर्पित यह मेरी रचना  हिंदी दिवस पर कविता  सभी हिंदी प्रेमियों को भेंट है। देवोपुनीत भाषा संस्कृत के बाद अगर कोई भाषा सर्वोपरि मानी जायेगी तो वो हिंदी भाषा है। संस्कार, संस्कृति, आदर, नेह, सौहाद्र और समपर्ण सिखाने वाली भाषा अगर कोई है तो वो हिंदी ही है। 

हिंदी दिवस एंकरिंग स्क्रिप्ट – हिंदी दिवस मंच संचालन स्क्रिप्ट, हिंदी दिवस प्रस्तोता स्क्रिप्ट

हिंदी दिवस एंकरिंग स्क्रिप्ट – उड़ती बात के सभी प्रशंसकों को Amit Maulik का स्नेहिल अभिवादन। साथियों, 14 सितम्बर को हिंदी दिवस है। जिसे हम हिंदी भाषा को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर व्यापक बनाने के लिए आयोजित करते हैं। हमारे देश की बिडंबना देखिए की हमें हमारी मातृभाषा के प्रसार, प्रचार, योगदान, महत्ता और

अभिनंदन पत्र पार्ट 2 – सम्मान पत्र, मोमेंटो, मेमेंटो, samman patra, abhinandan patra

अभिनंदन पत्र पार्ट 2 – दोस्तों, हमारे देश में सामाजिक संस्थाओं और धार्मिक आयतनों में निस्वार्थ सेवादारों को सम्मानित करने की प्रशंसनीय परंपरा का चलन है। वृस्तित रूप में देश और समाज में उल्लेखनीय भूमिका निभाने वाले विशिष्ट जनों को भी समाज सम्मानित करके, उनके पुनीत कार्यों की प्रशंसा और अनुमोदना करके समाज के अन्य
error: Content is protected !!