Love Shayari । रोमांटिक शायरी । मोहब्बत की शायरी । चार पंक्तियों की रोमांटिक शायरी

Buy Ebook

 

 

 

Love shayri in hindi font ।
love shayri for girlfriend
क्यों महकती सुबह, मदभरी शाम है
क्यों मेरी सांस पर, अब तेरा नाम है।
इक ख़ुमारी यहाँ से, वहाँ तरबतर
मैं परेशान हूँ, तू परेशान है।
ये ज़मीं आ गई, आसमाँ आ गया
चुप्पियाँ कह उठीं, शोर सा छा गया।
बेखबर हो कहीं से, चले थे कभी
तू कहाँ आ गई, मैं कहाँ आ गया।

 

ये भी पढ़ें-रोमांटिक शायरी
ये भी पढें-रोमांटिक कविता
ये भी पढें-प्रेम का गीत

 

सब सदा मैं कहूँ, कुछ कहो तुम कभी
मैं बहा दूर तक, कुछ बहो तुम कभी।
दर्द तूने दिया है, मुझे बे-क़दर
मैं बहुत सह चुका, कुछ सहो तुम कभी।
Gussa shayari in hindi font ।
Angry Shayari । narazgi ki shayari
कितना मासूम है तू नही जानता
तेरी चालाकियों को ना पहचानता
तू तेरी मान ले मैं मेरी मान लूं
दिल तुम्हारे बिना अब नही मानता
तू तरस जाएगी, मै तरस जाऊंगा
तूँ तड़प जाएगी, मैं तड़प जाऊँगा।
जिस तरफ तुम खड़ी, हो हदें खींचकर
अब कभी मैं नही, उस तरफ आऊंगा।

 

ये भी पढें-तकरार की नज़्म
ये भी पढ़ें-रोमांटिक ग़ज़ल
ये भी पढ़ें-मुहब्बत का गीत

 

तू मेरी रूह को, रुह से जोड़ दे
कर कोई फैसला, ये अहद छोड़ दे।
ये परखना समझना, अगर हो गया
तो कोई मोड़ दे, या ये दिल तोड़ दे।
Love me Safaai ki shayari ।
Galatfahmi me safai ki shayari
सच कहूँ मैं अगर, कोई वादा नही
दोस्त मानो अगर, कोई बाधा नही।
तू मुझे जान ले, मैं तुझे जान लूँ
इससे ज्यादा कोई भी, इरादा नही।
ख़्वाब को ख़्वाब का, दिलनशीं आसरा
आस से आस का, इक हसीं तब्सिरा।
बस मुकम्मल कहानी, यही है सुनो
इससे ज्यादा नही है, कोई सिलसिला।
जो समझना है समझो, समझना तुझे
मैं बहुत कह चुका हूँ, जो कहना मुझे।
दोस्त मानोगी मुझको, तो अहसान है
इससे ज्यादा नही है, तमन्ना मुझे।

 

 

Similar Posts:

Please follow and like us:
12 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *