बच्चों पर एंकरिंग शायरी – बच्चों पर शायरी, चिल्ड्रन्स डे एंकरिंग शायरी

Buy Ebook

बच्चों पर एंकरिंग शायरी– एंकरिंग के सभी धुरंधरों को अमित मौलिक का सादर अभिवादन। दोस्तों, प्रस्तुत है बच्चों पर एंकरिंग शायरी । अभी हाल ही में मैंने एक ऐसे कार्यक्रम का मंच संचालन किया जहाँ सबसे ज्यादा सांस्कृतिक प्रस्तुतियां बच्चों की थीं। मैंने महसूस किया कि बच्चों पर पढ़ने के लिये मेरे पास शायरी का ज्यादा-कुछ संग्रह नहीं था। मुझे थोड़ी असुविधा भी हो रही थी और कोफ़्त भी कि मैंने बच्चों पर शायरी क्यों नहीं लिखी। इस आर्टिकल बच्चों पर एंकरिंग शायरी के माध्यम से मैंने इस बावत कुछ प्रयास किया है कभी आप सबको भी ऐसा कुछ अनुभव हुआ हो तो मैं आशा करता हूँ कि इस आर्टिकल बच्चों पर एंकरिंग शायरी से आपको थोड़ी बहुत सहायता अवश्य मिलेगी।

बच्चों पर एंकरिंग शायरी, बच्चों पर मंच संचालन शायरी, बाल दिवस एंकरिंग शायरी, बाल दिवस मंच संचालन शायरी, बाल दिवस प्रस्तोता शायरी, बच्चों पर प्रस्तोता शायरी,बच्चों पर स्टेज शायरी, बच्चे की मुस्कान शायरी, छोटे बच्चे की शायरी, बचपन पर शायरी, मासूमियत पर शायरी, मासूम बच्चे शायरी, बच्चों पर कविता, बेबी शायरी हिंदी, छोटे-छोटे बच्चों की शायरी, बच्चों पर शायरी, बचपन पर शेर, बचपन की शायरी हिंदी, बच्चों वाली शायरी, बाल दिवस की शायरी, बाल दिवस पर शायरी, बाल दिवस शायरी, मासूम बच्चा शायरी, बाल दिवस पर पंक्तियाँ, बाल दिवस पर शेर, चिल्ड्रन्स डे एंकरिंग शायरी, children's day anchoring shayari in hindi, bal divas shayari in hindi, baldivas par shayari in hindi, bachchon par shayari, bachcho par shayari, bacchon par shayari, bachchon wali shayari, bachpan par shayari, bachchon par anchoring shayari in hindi, bachchon par manch sanchalan shayari in hindi, baldivas sutra sanchalan shayari in hindi

बच्चों पर एंकरिंग शायरी, बच्चों पर मंच संचालन शायरी, बाल दिवस एंकरिंग शायरी, बाल दिवस मंच संचालन शायरी, बाल दिवस प्रस्तोता शायरी, बच्चों पर प्रस्तोता शायरी,बच्चों पर स्टेज शायरी, बच्चे की मुस्कान शायरी, छोटे बच्चे की शायरी, बचपन पर शायरी, मासूमियत पर शायरी, मासूम बच्चे शायरी, बच्चों पर कविता, बेबी शायरी हिंदी, छोटे-छोटे बच्चों की शायरी, बच्चों पर शायरी, बचपन पर शेर, बचपन की शायरी हिंदी, बच्चों वाली शायरी, बाल दिवस की शायरी, बाल दिवस पर शायरी, बाल दिवस शायरी, मासूम बच्चा शायरी, बाल दिवस पर पंक्तियाँ, बाल दिवस पर शेर, चिल्ड्रन्स डे एंकरिंग शायरी

बच्चों पर एंकरिंग शायरी, बच्चों पर मंच संचालन शायरी, बाल दिवस एंकरिंग शायरी, बाल दिवस मंच संचालन शायरी, बाल दिवस प्रस्तोता शायरी, बच्चों पर प्रस्तोता शायरी,बच्चों पर स्टेज शायरी, बच्चे की मुस्कान शायरी, छोटे बच्चे की शायरी, बचपन पर शायरी, मासूमियत पर शायरी, मासूम बच्चे शायरी, बच्चों पर कविता, बेबी शायरी हिंदी, छोटे-छोटे बच्चों की शायरी, बच्चों पर शायरी, बचपन पर शेर, बचपन की शायरी हिंदी, बच्चों वाली शायरी, बाल दिवस की शायरी, बाल दिवस पर शायरी, बाल दिवस शायरी, मासूम बच्चा शायरी, बाल दिवस पर पंक्तियाँ, बाल दिवस पर शेर, चिल्ड्रन्स डे एंकरिंग शायरी, children's day anchoring shayari in hindi, bal divas shayari in hindi, baldivas par shayari in hindi, bachchon par shayari, bachcho par shayari, bacchon par shayari, bachchon wali shayari, bachpan par shayari, bachchon par anchoring shayari in hindi, bachchon par manch sanchalan shayari in hindi, baldivas sutra sanchalan shayari in hindi

बच्चों पर एंकरिंग शायरी

ये ही बच्चे हैं मुक़द्दर, अपने हिंदुस्तान के
इनको जी भर कर दुआयें, रोज अपनी दीजिये।

चाँद सितारे इनको भी, इनके हिस्से के छूने दो
दुनियादारी सीख लिये तो, हम जैसे हो जायेंगे।

धड़कन धड़कन राधिका, नस नस माखन चोर
इन बच्चों ने भर दिया, वृंदावन हर ओर।

इनकी खुश्बू से ही है, दिलशाद अपना गुलसिताँ
इनको जी भरकर चहकने, और महकने दीजिये।

आसमान से पंख लगाकर, आई नन्हीं परी यहाँ
फूल महकने लगे खुशी से, खुश्बू फैली यहाँ वहाँ।

या रब मुझे ख़ुदाई दे दे, गर तुझसा बन जाऊँगा
इन बच्चों के भोलेपन पर, तीनों जहाँ लुटाऊँगा।

ये भी पढें – चिल्ड्रन्स डे पोएम इन हिंदी

ये भी पढें – डॉक्टर्स डे पोएम इन हिंदी

ये भी पढें – तालियों वाली शायरी हिंदी में

 

बच्चों पर एंकरिंग शायरी, बच्चों पर मंच संचालन शायरी, बाल दिवस एंकरिंग शायरी, बाल दिवस मंच संचालन शायरी, बाल दिवस प्रस्तोता शायरी, बच्चों पर प्रस्तोता शायरी,बच्चों पर स्टेज शायरी, बच्चे की मुस्कान शायरी, छोटे बच्चे की शायरी, बचपन पर शायरी, मासूमियत पर शायरी, मासूम बच्चे शायरी, बच्चों पर कविता, बेबी शायरी हिंदी, छोटे-छोटे बच्चों की शायरी, बच्चों पर शायरी, बचपन पर शेर, बचपन की शायरी हिंदी, बच्चों वाली शायरी, बाल दिवस की शायरी, बाल दिवस पर शायरी, बाल दिवस शायरी, मासूम बच्चा शायरी, बाल दिवस पर पंक्तियाँ, बाल दिवस पर शेर, चिल्ड्रन्स डे एंकरिंग शायरी, children's day anchoring shayari in hindi, bal divas shayari in hindi, baldivas par shayari in hindi, bachchon par shayari, bachcho par shayari, bacchon par shayari, bachchon wali shayari, bachpan par shayari, bachchon par anchoring shayari in hindi, bachchon par manch sanchalan shayari in hindi, baldivas sutra sanchalan shayari in hindi

अच्छा बच्चो मुझे बताओ, किसे देखना सोनपरी
चलो देखलो पंख लगाकर, आसमान से है उतरी।

दुआ जरा खुलकर देना, इन प्यारे बाल गोपालों को
ऐसे प्यारे बच्चे ईश्वर, देता किस्मत वालों को।

मन करता है इन बच्चों पर, मन भर ख़ुशी लुटाऊँ मैं
जी करता है एक बार, फ़िर से बच्चा बन जाऊँ मैं।

इन बच्चों से कदम मिलाकर, आतुर बैठा चलने को
इन बच्चों के संग ज़माना, है तैयार बदलने को।

बच्चों पर एंकरिंग शायरी, बच्चों पर मंच संचालन शायरी, बाल दिवस एंकरिंग शायरी, बाल दिवस मंच संचालन शायरी, बाल दिवस प्रस्तोता शायरी, बच्चों पर प्रस्तोता शायरी,बच्चों पर स्टेज शायरी, बच्चे की मुस्कान शायरी, छोटे बच्चे की शायरी, बचपन पर शायरी, मासूमियत पर शायरी, मासूम बच्चे शायरी, बच्चों पर कविता, बेबी शायरी हिंदी, छोटे-छोटे बच्चों की शायरी, बच्चों पर शायरी, बचपन पर शेर, बचपन की शायरी हिंदी, बच्चों वाली शायरी, बाल दिवस की शायरी, बाल दिवस पर शायरी, बाल दिवस शायरी, मासूम बच्चा शायरी, बाल दिवस पर पंक्तियाँ, बाल दिवस पर शेर, चिल्ड्रन्स डे एंकरिंग शायरी, children's day anchoring shayari in hindi, bal divas shayari in hindi, baldivas par shayari in hindi, bachchon par shayari, bachcho par shayari, bacchon par shayari, bachchon wali shayari, bachpan par shayari, bachchon par anchoring shayari in hindi, bachchon par manch sanchalan shayari in hindi, baldivas sutra sanchalan shayari in hindi

होंठों पर मुस्कान सजाकर, प्यारे बच्चे आये हैं
देश का गौरव और बढ़ाने, चंद फरिश्ते आये हैं।

आओ बच्चों शपथ उठायें, सुंदर वतन बनायेंगे
लाल बहादुर नेहरू जैसा, हम भी कुछ कर जायेंगे।

नहीं चलेगी किसी ग़ैर की, तुम सबकी ही चलना है
प्यारे बच्चों आंगे जाकर, तुमको देश बदलना है।

फ्यूचर का सलमान कहो या, गोविंदा कह लो इसको
ये पक्का स्टार बनेगा, इसके लक्षण तो देखो।

इन मासूमों को हम मिलकर, इज्ज़तदार बना देंगें
चार पैंतरे इन्हें सिखाकर, दुनियादार बना देंगें।

– कवि अमित मौलिक

यह आर्टीकल बच्चों पर एंकरिंग शायरी आपको कैसा लगा अवश्य बतायें। धन्यवाद

Similar Posts:

    None Found

Please follow and like us:
2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!