Category: देशभक्ति कविताएं

देशभक्ति गीत आधारित मंच संचालन शायरी पार्ट 1- देश भक्ति गीतों पर शायरी, देशभक्ति शायरी

देशभक्ति गीत आधारित मंच संचालन शायरी – मंच संचालन के सभी महारथियों को जय हिंद। मित्रों, आप सोच रहे होंगें कि इस पोस्ट देशभक्ति गीत आधारित मंच संचालन शायरी के द्वारा मैं आपके सामने exactly क्या पेश करने वाला हूँ। शायद किसी-किसी ने थोड़ा बहुत अंदाज़ा भी लगा लिया होगा। तो चलिये इस प्रस्तुति देशभक्ति

जलियाँवाला बाग हत्याकांड : जलियांवाला बाग हत्याकांड पर कविता

जलियाँवाला बाग हत्याकांड – परतंत्र भारत में फिरंगियों के काले और बर्बर ज़ुल्मों का सबसे काला पन्ना अगर कोई है तो वो है जलियाँवाला बाग हत्याकांड । इस हत्याकांड में शहीद देशबासियों को इस कविता के माध्यम से श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ।    जलियाँवाला बाग हत्याकांड पर हिंदी कविता इन इतर कयासों को छोड़ो, मैं खूंरेजी का

रानी लक्ष्मी बाई : रानी लक्ष्मी बाई पर कविता – झाँसी की रानी लक्ष्मी बाई पर कविता, Rani lakshmi bai par hindi kavita

रानी लक्ष्मीबाई पर कविता – भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में वैसे तो लाखों देश भक्त हँसते-हँसते देश पर कुर्बान हो गये लेकिन चंद देशभक्त ऐसे हैं जिनकी अद्वितीय वीरता, बलिदान और योगदान आज भी बच्चे बच्चे की ज़ुबान पर हैं। इस आर्टिकल रानी लक्ष्मी बाई पर कविता के द्वारा आज हम ऐसी ही एक वीरांगना जिनका नाम रानी लक्ष्मीबाई

इंदिरा गांधी : इंदिरा गांधी पर कविता, इंदिरा गांधी पर विशेष कविता, Indira Gandhi kavita hindi, poem on Indira Gandhi in hindi

इंदिरा गाँधी – भारत की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी एकमात्र ऐसी पहली और आख़िरी महिला प्रधानमंत्री थीं जिन्हें लौह महिला के नाम से पूरी वैश्विक दुनिया मे जाना जाता था। हिंदुस्तान इंदिरा गांधी के अतुल्य योगदान को कभी नहीं भुला सकता। मेरी यह कविता उनके अमिट योगदान के नाम समर्पित है। इंदिरा गांधी पर कविता

Poem on Anti black money day- एन्टी ब्लैक मनी डे के समर्थन में कविता, नोटबन्दी दिवस के समर्थन में कविता

एन्टी ब्लैक मनी डे – मोदी जी के नोटबन्दी के कारण मची अफ़रातफ़री के कारण विपक्ष बौखलाया हुआ है। हास्यास्पद है कि मोदी गवर्नमेंट द्वारा मनाये जा रहे एन्टी ब्लैक मनी डे के विरोध में विपक्ष द्वारा काला दिवस मनाया जा रहा है। यह कविता इस प्रकार की स्वार्थपरक सियासत का विरोध करती है।  एन्टी ब्लैक

पाकिस्तान सेना द्वारा दो भारतीय सैनिकों को मारने और उनके सिर काटने पर आक्रोश जताती कविता। Poem against Pakistanis army barbaric act killed two Indian soldiers and mutilated Bodies

    एक कटेगा बीस काटकर, दुश्मन के सिर लायेंगे हमें जिताओ है वादा हम, कड़ा सबक सिखलायेंगे। लेकिन आज नदारद सारे, तेवर भगतसिंह वाले ये कैसी तासीर पदों की, स्वाभिमान को जो मारे। निंदा निंदा और भर्त्सना, सुना सुना कर छका दिये बड़ बोले कुछ नेताओं ने, कान हमारे पका दिये। ये भी पढ़ें- 

कश्मीर में सैनिकों का थप्पड़ों द्वारा अपमान पर रोष जताती कविता। Poem against army being insulted in Kashmir

  गर न भूले आसमान से, ऊंचे उड़े इरादों को गर न भूले ढेर प्रचारित, छप्पन इंची वादों को। अगर याद हो सौ करोड़ ने, तुमको शासन सौंपा है अगर ज्ञात हो हिन्दोस्तां को, तुम पर बड़ा भरोसा है। जननी जन्मभूमि की अस्मत, हमको जां से प्यारी है अगर याद हो आंख नोचने, वाली रीत

कश्मीर में सेना के जवानों से हुई बदसलूकी पर कविता।

कश्मीर में सेना के जवानों से बदसलूकी पर कविता – प्रिय पाठको, प्रस्तुत है आर्टीकल कश्मीर में सेना के जवानों से बदसलूकी पर कविता । अभी हालिया ही कश्मीर में सेना के जवानों के साथ जिस तरह की बदसलूकी की गई उससे पूरे देश में आक्रोश की लहर दौड़ गई। हमारा भारत देश पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद

कैशलेस भारत पर कविता। poem on cashless india

  दुनिया के इस नील गगन में, सूरज हिंदुस्तान बने काम करो कुछ ऐसा यारो, दुनिया हमें सलाम करे। रही चुनौती की बातें तो, वो आतीं हैं आयेंगीं धूप खिलेगी दिन निकलेगा, परछाई भी छायेंगीं हमने पहले ही प्रयास में, मंगल यान उड़ाया है घर की परमाणु पनडुब्बी, का डंका बजवाया है। तकनीकी स्टार्टअप वाले,

मन की बात पर कविता । Poem on Man ki baat ।

‘मन की बात’ सत्य हो जाये, ऐसा इक परिवेश बने नेता जब नंबर वन अपना, देश भी नंबर एक बने यही है मौका आंगे आओ, मिल जुल ऐसा काम करो विश्व गुरु कहलाने वाला, फिर से भारत देश बने चाहे जितना भी तप कर लो, शिव संभू क्या कर लेंगे किया धरा सब अपनों का