मंच संचालन स्क्रिप्ट होली मिलन । Anchoring script- Holi milan, Holi milan samaroh anchoring script in hindi

Buy Ebook

मंच संचालन स्क्रिप्ट होली मिलन होली 2018 का रंगारंग उत्सव बिल्कुल करीब है। हमारे देश में जगह जगह सामाजिक संस्थाओं द्वारा होली मिलन के कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है। इस आर्टिकल मंच संचालन स्क्रिप्ट होली मिलन के द्वारा मैंने अपने एंकर मित्रों को कुछ एंकरिंग मटेरियल उपलब्ध कराने का प्रयास किया है। आशा है आपको पसंद आयेगा। 

होली पर एंकरिंग स्क्रिप्ट, होली की एंकरिंग स्क्रिप्ट, होली स्क्रिप्ट, होली पर मंच संचालन स्क्रिप्ट, होली मिलन की एंकरिंग स्क्रिप्ट, होली मिलन की मंच संचालन holi milan Anchoring script in hindi, holi milan ki Anchoring script in hindi, holi ki manch Sanchalan, होली प्रस्तोता स्क्रिप्ट, होली मिलन प्रस्तोता स्क्रिप्ट, होली मंच संचालन,

 

खुसरो रैन सुहाग की, जागी पी के संग
तन मेरो मन पियो को, दोऊ भये इक रंग।

1) भूमिका:-

-कितनी ख़ूबसूरत बात ख़ुसरो साहिब ने कही है। सचमुच होली हो भी, तो ऐसी ही हो जहाँ रँज़, गम, विषाद की कलुषित कालिमायें, प्रेम रूपी गुलालों के रंग में रंग जायें। और सच भी है , जब फागुन के रंग चढ़ते हैं तो सारे रंगभेद विघटित हो जाते हैं। सिर्फ प्रेम का रंग ही शेष बचता है।

फ़ागुन मास के अमृत उत्सव, होली के उपलक्ष्य में आयोजित इस होली मिलन के रंगारंग कार्यक्रम में, मैं अमित ‘मौलिक’ ग्रीन क्लब की ओर से आप सब होली के मतवालों को, होली की मुबारकबाद देता हूँ-आपका हार्दिक स्वागत करता हूँ।

एक बार जोरदार तालियाँ ग्रीन क्लब के आयोजक हुरियारों के लिये बजा दीजिये जिन्होंने इतने शानदार रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन यहाँ रखा है।

मैं इन पंक्तियों के माध्यम से आप सबको होली मय करना चाहता हूँ कि..

ये फ़ागुन की बहारें हैं, दिलों को खोल देंगें हम
ये पागल पन के मौसम हैं, राज़ सब बोल देंगें हम
बहुत आसान है तन कर, पहाड़ों से खड़े होना
तू बादल बनके बरसे तो, गुलालें घोल देंगें हम।

-गुलालों की बात आयी है दोस्तो तो मैं चाहता हूँ कि पूरा वातावरण रंगीन होना चाहिये। मुझे क़ुछ शाही चेहरे अभी भी साफ़ सुथरे दिखाई दे रहे हैं।

मैं ग्रीन क्लब के कर्मठ युवाओं से अनुरोध करता हूँ इन चंद निर्मल हस्तियों को फुर्ती से लाल-पीला करें। जी हाँ। बिलकुल-बिलकुल, घबड़ाने की बात नहीं। बुरा ना मानो होली है। बहुत बढ़िया।

2) गणपति वंदना:-

-एक बार आप सब अपने लिए जोरदार तालियाँ बजा दीजिये तो मैं कार्यक्रम को आरम्भ करूँ। बहुत बहुत शुक्रिया। तो चलिये मंगल कामना के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ करते हैं।

मैं मंगला चरण के लिये 1……,2……, 3……..को मंच पर आमंत्रित करता हूँ कि वो आयें और गणपति वंदना से कार्यक्रम की विधिवत शुरुआत करें।

ये भी पढ़ें: श्री गणेश वंदना
ये भी पढ़ें: माँ सरस्वती वंदना

( गणपति वंदना का समापन..)

बहुत ही सुमधुर मंगलमयी प्रार्थना। एक बार तालियों की करतल ध्वनि से संपूर्ण जगत की मंगल कामना का अनुमोदन कर दीजिए। धन्यवाद

हमारे इस रंग भरे जलसे में पधारे सभी ख़ास अतिथियों, गणमान्य हस्तियों, सुधि श्रोताओं और मातृ शक्ति का ग्रीन क्लब की ओर से मैं अबीर मय स्वागत करता हूँ। अभिनन्दन करता हूँ।

3) अतिथियों को मंचासीन कराना:-

दीप प्रज्वलन का क्रम है, और मैं आज के ख़ास अतिथियों को इस क्रम के पूर्ण करने के लिये मंच पर आमंत्रित करना चाहता हूँ।

हमारे आज के विशिष्ट अतिथि …………..विभाग के……..पद को सुशोभित करने वाले मृदुभाषी बहुमुखी व्यक्तित्व के मालिक श्री…………को मंच पर इन पंक्तियों के माध्यम से आमंत्रित करना चाहता हूँ कि..

होली पर एंकरिंग स्क्रिप्ट, होली की एंकरिंग स्क्रिप्ट, होली स्क्रिप्ट, होली पर मंच संचालन स्क्रिप्ट, होली मिलन की एंकरिंग स्क्रिप्ट, होली मिलन की मंच संचालन holi milan Anchoring script in hindi, holi milan ki Anchoring script in hindi, holi ki manch Sanchalan, होली प्रस्तोता स्क्रिप्ट, होली मिलन प्रस्तोता स्क्रिप्ट, होली मंच संचालन,

ख़ुदा ने खिलखिलाते रंग, निहायत ही चंद बनाये हैं
उनमें से सबसे मोहक, आज हमारी महफ़िल में आये हैं।

ज़ोरदार तालियों की गड़गड़ाहट हमारे विशिष्ट अतिथि के लिये। मैं ग्रीन क्लब के कोषाध्यक्ष श्री………से अनुरोध करता हूँ कि उन्हें मंच तक सम्मान सहित लेके आयें।

अब ऐसी शख्सियत को मंच पर आमंत्रित करना चाहता हूँ जिन्होंने अपनी विद्वता से विदेशों तक में लोकप्रियता हासिल की है।

जी हां दोस्तो, सही पहचाना वरिष्ठ साहित्यकार एवम ………साप्ताहिक समाचार पत्र के संपादक माननीय डॉ………..से मंच पर पधारने का अनुरोध इन दो पंक्तियों के माध्यम से करना चाहता हूँ कि…

कोई एक दो नहीं, पूरी गुलालों की बस्ती हैं
आप मुहब्बत के इंद्रधनुष हैं, खुशनुमा हस्ती हैं।

जोरदार तालियाँ हमारे आज के कार्यक्रम अध्यक्ष के लिये। मैं ग्रीन के क्लब के उपाध्यक्ष श्री………..से अनुरोध करूँगा कि वो हमारे अतिथि को ससम्मान मंच तक लेके आयें।

अब मै जिस आलीशान शख्सियत को आमंत्रित करने जा रहा हूँ उनके बारे में कितना कुछ भी बताया जाये कम पढ़ जायेगा।

जी हाँ मित्रो, हमारे आज के मुख्य अतिथि (chief gueat) हैं, मशहूर उद्योगपति, प्रसिद्ध दानी एवम समाजसेवी माननीय श्री………….जी।

मैं दो पंक्तियाँ उनके उदार एवम सवेंदनशील व्यक्तित्व को समर्पित करते हुये मंच पर आमंत्रित करता हूँ कि..

आंगें पढ़ने के लिये पेज 2 पर जायें-

Similar Posts:

loading...
Please follow and like us:

Comments

  1. Reply

    • Reply

  2. By pramod verma

    Reply

    • Reply

  3. By Narendra Kumar

    Reply

  4. Reply

  5. Reply

  6. By राजेन्द्र जोशी

    Reply

    • Reply

  7. By shrawan

    Reply

    • Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!