मंच संचालन स्क्रिप्ट-विद्यालय का बार्षिकोत्सव। Anchoring script- Annual Function of School

Buy Ebook

 

5) स्वागत नृत्य

एंकर मेल-माँ के श्री चरणों में नमन पश्चात जैसा की क्रम है, मैं अतिथि स्वागत नृत्य की प्रस्तुति के लिए कुमारी…………एवम कुमारी…………….को इन पंक्तियों के साथ मंच पर आमंत्रित करता हूँ कि…..

अनुगृहित है मन मुदित है, श्री मन पधारे जो यहाँ
आभा उदित है मंच पर, सूरज दमकता है यहाँ

 

समापन-बहुत ही अप्रतिम नृत्य प्रस्तुति। एक बार जोरदार तालियाँ इस प्रस्तुति के लिए।
बहुत धन्यवाद कुमारी…………. एवम कुमारी……………….

 

6) अतिथि स्वागत

एंकर फीमेल- साथियो, एक स्वस्थ समाज, सदा से ही मनुष्य के जीवन के लिए अनिवार्य घटक रहा है। और एक समाज को आदर्श बनाने में, सदा ही ईश्वर अपने नेक वंदों को, अपना प्रतिनिधि बना कर भेजता है। जिनके नेतृत्व के बिना यह समाज उन्नति से, उत्थान से और अपनी मौलिकता से वंचित रह जाता है। ऐसे ही ईश्वरीय कार्यों का प्रतिनिधित्व करने वाले लोग आज हमारे अतिथियों के रूप में विराजमान होकर इस मंच की शोभा बढ़ा रहे हैं।

एंकर मेल-बिल्कुल सत्य कहा आपने, मैं मंच पर विराजित सभी विभूतियों को नमन करता हूँ । सर्वप्रथम मैं आज के मुख्य अतिथि माननीय श्री …………..जी के अद्वितीय व्यक्तित्व को चंद पंक्तियाँ समर्पित करते हुये उनके स्वागत के लिए हमारे हिंदी के वरिष्ठतम अध्यापक गुरुवर श्री……………जी को आमंत्रित करता हूँ कि वो आयें और मुख्य अतिथि जी का स्वागत करें -अभिनन्दन करें कि..

 

यह बड़ी सोच यह दूरदृष्टि यह ऊर्जा हमें भी मिल जाये
तो हम सबके जीवन में भी आशा की कोंपल खिल जाये

जोरदार तालियां साथियो मुख्य अतिथि जी के लिये।

 

एंकर फीमेल-तत्पश्चात मैं आज के कार्यक्रम अध्यक्ष माननीय श्री ……………… जी के विराट व्यक्तित्व को चंद पंक्तियाँ समर्पित करते हुए उनके स्वागत लिए हमारे इतिहास के अध्यापक गुरुवर श्री……………जी को आमंत्रित करती हॅूं की वो आयें और हमारे आज के कार्यक्रम अध्यक्ष जी का स्वागत करें-अभिनदंन करें।

 

धन-धन हमारे भाग हैं, श्रीमन हमारे साथ हैं
हम नमन अभिनंदन करें, तव जोड़कर द्वय हाथ हैं

 

जोरदार तालियां हमारे कार्यक्रम अध्यक्ष जी के लिए।

 

अवश्य पढ़ें: मंच संचालन कैसे करें

111 Comments

Leave a Reply